रंगहीन पानी समुंद्र में नीला क्यों दिखाई देता है ? Why does sea water blue?

Hello Friends, अधिकतर लोग यह बात नहीं जानते हैं कि समुद्र नीला क्यों दिखाई पड़ता है जबकि उसमें कोई रंग नहीं मिला होता और पानी रंगहीन होता है.


जैसा की आप सभी जानते हैं हमारे पृथ्वी का ज्यादातर भू भाग पानी से ही घिरा हुआ है. हमारी पृथ्वी विशाल सागरों और पृथ्वी पर लगभग 71 प्रतिशत जल होने की वजह से और हमारी पृथ्वी अंतरिक्ष से देखने पर नीली दिखती है.

Samudra Ka paani Neela Kyon Dikhai Padta hai

अब प्रश्न यह बनता है की पृथ्वी अंतरिक्ष से नीली दिखाई पड़ती है समुद्र की वजह से लेकिन समुद्र का जल जो की रंगहीन होता है वो नीला क्यों दिखाई पड़ता है? 


तो हम आपको में बहुत आसान भाषा में इसके पीछे छुपे हुए कारण बताने की कोशिश करूँगा. जैसा की आप सभी जानते हैं की पानी का कोई रंग नहीं होता है उसमे हम जो भी रंग को मिला दे वो उस रंग हो जाता है. लेकिन अब कोई समुद्र में तो रंग नहीं मिलाने आयेगा समुद्र के जल के नीले दिखने की वजह सूर्य के प्रकाश की किरणें होती हैं।

Samudra Ka Rang Neela Kyon Dikhai Deta hai

दरअसल सूर्य की किरणें सात रंगों से मिलकर बनी होती हैं और जब भी आकाश से समुद्र में आती हैं तो आकाश एक प्रिज्म की तरीके से कार्य करने लगता है और इन प्रकाश की किरणों को अलग-अलग रंगों में विभक्त कर देता है जब सूर्य की किरणें समुद्र पर पड़ती है तो सफेद रोशनी में मौजूद सात रंगों में से लाल पीला हरा रंग समुद्र अवशोषित कर लेता है क्योंकि इनकी तरंग धैर्य लंबी होती है जबकि नीला रंग परावर्तित होकर बाहर आ जाता है क्योंकि नीले रंग की तरंग धैर्य काफी कम होती है।

यही कारण है कि समुद्र का रंग नीला दिखाई पड़ता है ठीक इसी प्रकार आसमान भी हमको नीला दिखाई पड़ता है क्योंकि सूर्य से आने वाली किरणों में नीले रंग की तरंग धैर्य के कम होने के कारण या आसमान में मौजूद गैसों के कणों से परावर्तित होकर फैल जाती है

Leave a Comment

You cannot copy content of this page
Scroll to Top

Live Quiz : बंधुत्व जाति और वर्ग | 04:00 pm