Category: Economics

Class 10 Economics Chapter 5 उपभोक्ता अधिकार

उपभोक्ता:–बाजार से अपनी दैनिक आवश्यकताओं के लिए विभिन्न प्रकार की वस्तुएं खरीदने वाले लोग। उत्पादक:– दैनिक आवश्यकताओं की वस्तुओं का निर्माण या उत्पादन करने वाले लोग। उपभोक्ताओं के अधिकार:उपभोक्ताओं के हितों की सुरक्षा के लिए कानून द्वारा दिए गए अधिकार जैसे:- सुरक्षा का अधिकार सूचना का अधिकार चुनने का अधिकार क्षतिपूर्ति

Class 10 Chapter 4 Economics वैश्वीकरण और भारतीय अर्थव्यवस्था

वैश्वीकरण:– वैश्वीकरण का अर्थ है अपने देश की अर्थव्यवस्था का विश्व की अर्थव्यवस्था के साथ एकीकरण करना। उदारीकरण :–उदारीकरण का अर्थ है सरकार द्वारा देशों के बीच व्यापारिक प्रतिबंधों को हटाना। बहुराष्ट्रीय कंपनियां :–बहुराष्ट्रीय कंपनी ऐसी कंपनियों को कहते हैं जो दूसरे देशों में व्यापार के लिए अपनी शाखाएँ स्थापित करती

Class 10 Chapter 3 Economics मुद्रा और साख

वस्तु विनियम प्रणाली:- इस प्रणाली में मुद्रा का उपयोग किये बिना वस्तुओं का लेन देन होता है। आवश्यकताओं का दोहरा संयोग:- विनियम में दोनो पक्ष एक दूसरे से चीज खरीदने और बेचने पर सहमति रखते हो। वस्तु विनियम प्रणाली में आवश्यकताओं का दोहरा संयोग होना आवश्यक है। विनियम का माध्यम:- मुद्रा विनियम प्रक्रिया में

Class 10 Economics Chapter 2 भारतीय अर्थव्यवस्था के क्षेत्रक

अर्थव्यवस्था के क्षेत्रक:- प्राथमिक क्षेत्र:- जब हम प्राकृतिक संसाधनों जैसे कृषि खनन और मत्स्य आदि उद्योग का उपयोग करके किसी वस्तु का उत्पादन करते है तो इसे प्राथमिक क्षेत्रक की गतिविधियाँ कहते है। खनन,लकड़ी काटना या लबरिंग और मत्स्य, पशुपालन आदि ऐसे ही कुछ प्राथमिक गतिविधियां है । द्वितीयक क्षेत्रक:- प्राकृतिक उत्पादों

Class 10 Chapter 1 Economics विकास

विकास:- विभिन्न व्यक्ति, विभिन्न लक्ष्य लोगों के विकास के लक्ष्य भिन्न हो सकते है। एक के लिए जो विकास है जरुरी नहीं कि वह दूसरे के लिए भी विकास न हो। यहाँ तक कि वह दूसरे के लिए विनाशकारी भी हो सकता है। आय और अन्य लक्ष्य:- ज्यादा आय, बराबरी का

You cannot copy content of this page

Scroll to Top