याद रखने योग्य बातें – राष्ट्र-निर्माण की चुनौतियाँ – Class12th Political Science chapter 1

राष्ट्र-निर्माण की चुनौतियाँ  (Nation-Building and Its Challenges)

Class 12 | Chapter 10

हिंदी नोट्स

याद रखने योग्य बातें  

  1. हिंदुस्तान की आजादी: हिंदुस्तान 14-15 अगस्त की रात्रि आजाद हुआ।
  2. भाग्यवधू से चिर-प्रतीक्षित भेंट (ट्रिस्ट विद डेस्टिनी) : जवाहर लाल जी ने स्वतंत्रता प्राप्ति की मध्य रात्रि को संविधान सभा के विशेष सत्र को संबोधित करते हुए जो कहा था उसका अर्थ है, सौभाग्यशाली दुल्हन (अर्थात् देश की स्वतंत्रता) के साथ एक दीर्घ इंतजार के बाद सौभाग्यपूर्ण भेंट या मुलाकात।
  3. सबकी सहमति की दो बातें : (i) स्वतंत्रता के उपरांत देश का शासन लोकतांत्रिक सरकार के द्वारा। (ii) देश की सरकार सबकी भलाई के लिए कार्य करेगी।
  4. 1947 का वर्ष हिंसा और त्रासदी का वर्ष : देश में साम्प्रदायिक दंगे, लोगों के विस्थापन से उत्पन्न होने वाली अनेक समस्याएँ।
  5. एक ऐतिहासिक दिन लेकिन खुशी और गम का दिन : स्वतंत्रता की प्राप्ति से ऐतिहासिक दिन और खुशी का दिन, देश विभाजन की दृष्टि से दुख या गम का दिन।
  6. देश के समक्ष तीन चुनौतियाँ : (i) क्या भारत एक रह पाएगा (राष्ट्रीय अखंडता)। (ii) लोकतंत्र को कायम करना। (ii) सारे समाज की भलाई करना।
  7. फैज अहमद फैज ( जीवन काल): 1911-1984
  8. दस्त-ए-सब तथा जिंदानामा : फैज के दो कविता संग्रह।
  9. अमृता प्रीतम : पंजाबी की महान कवयित्री जीवनकाल, 1919-2005, ज्ञानपीठ पुरस्कार प्राप्तकर्ता।
  10. दि-राष्ट्र सिद्धांत (Two Nations Theory) : इसके अनुसार भारत किसी एक कौम का नहीं, हिंदू और मुसलमान नामक दो कौमों का देश है। इसी आधार पर इंडिया (भारत) का विभाजन ब्रिटिश सरकार के अनुसार हिन्दुस्तान और पाकिस्तान के रूप में हुआ।
  11. सीमांत गाँधी : खान अब्दुल गफ्फार खान, पश्चिमोत्तर सीमा प्रांत (NWFP) के महान नेता। इन्होंने द्वि-राष्ट्र सिद्धांत का जमकर विरोध किया।
  12. पूर्वी पाकिस्तान : आज का बांग्लादेश (1971 में बांग्लादेश अस्तित्व में आया था)।
  13.  1947 में नोआखली में गाँधी जी की यात्रा : साम्प्रदायिक दंगों की आग को शांत करने के लिए राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी ने 1947 में नोआखली (जो अब बांग्लादेश में है) की यात्रा करके साम्प्रदायिक सद्भाव उत्पन्न करने का प्रयास किया।
  14.  धार्मिक दृष्टि से भारत का सबसे बड़ा अल्पसंख्यक समुदाय : मुसलमानों को यह संज्ञा दी जाती है। 1951 में देश की कुल आबादी में 12 प्रतिशत मुसलमान थे।
  15.  भारत के अन्य धार्मिक अल्पसंख्यक समुदाय : सिक्ख, ईसाई, जैन, बौद्ध, पारसी और यहूदी।
  16.  गर्म हवा : एक प्रसिद्ध फिल्म जो 1973 में एम.एस. सथ्यु के निर्देशन में देश-विभाजन के विषय पर (आधारित);
  17. महात्मा गाँधी की शहादत : 31 जनवरी, 1948 को एक हिंदू अतिवादी नाथूराम विनायक गोडसे द्वारा तीन मलिक गई और गाँधी जी उसी समय शहीद हो गए।
  18. रजवाड़ा : सीधे ब्रिटिश प्रभुत्व से बाहर वाले वे देसी राज्य (जिनकी संख्या 565 थी) जो छोटे-बड़े आकार के थे और ब्रिटिश राज्य की सर्वोच्च सत्ता स्वीकार कर रखी थी और अपने घरेलू मामलों का शासन चलाते थे।
  19.  वे चार रियासतें जो अन्य रियासतों की तुलना में भारतीय संघ में बाद में शामिल हुई थीं : जूनागढ़, है जम्मू-कश्मीर और मणिपुर।
  20. इंस्टुमेंट ऑफ एक्सेशन (Instrument of Accession) : वह सहमति पत्र जो देसी रजवाड़ों के शासकों के सामने के बाद भारतीय संघ में अपने विलय के लिए प्रस्तुत किया गया था।
  21.  सरदार वल्लभ भाई पटेल का जीवनकाल : 1875-1950, स्वतंत्र भारत के प्रथम गृह मंत्री और उपप्रधानमंत्री, देसीरि  को भारतीय संघ में शामिल कराने में सबसे महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले महान राष्ट्रवादी. लौह -पुरुष कहलाने वाला माे नेता।
  22. महाराजा बोधचंद्र सिंह : मणिपुर के राजा जिन्होंने आजादी के कुछ दिनों बाद भारत संघ में शामिल होने के लिए स् पत्र पर हस्ताक्षर किए थे।
  23.  भारत में अधिकांश राज्यों के पुनर्गठन का मुख्य आधार : भाषा।
  24.  पोट्टी श्रीरामुलु : महान गाँधीवादी, स्वतंत्र आंध्र प्रदेश राज्य को गठित कराने के लिए 56 दिनों की वह शहीद हो गए।
  25.  राज्य पुनर्गठन आयोग का निर्माण : 1953 में।
  26. अलगाववाद : वह संकीर्ण भावना जो देश से अलग होकर स्वतंत्र राज्य या देश बनाने की प्रेरणा देती है।
  27. द्विभाषी राज्य : जिस राज्य में दो भाषाई समूह साथ-साथ रहते हों जैसे स्वतंत्रता के समय बंबई प्रेजीडेंसी में गुजराती हकं मराठी भाषा बोलने वाले लोग रहते थे।
  28. पंजाब राज्य का पुनर्गठन : 1966 में तीन राज्य अस्तित्व में आए-पंजाबी भाषायी राज्य पंजाब, हिन्दी भाषाई राज्य-हरिया और हिमाचल प्रदेश।
  29. मेघालय का निर्माण : सन् 1972 में असम से मेघालय बनाया गया।
  30.  सन् 2000 में बने तीन राज्य : झारखंड, छत्तीसगढ़ और उत्तरांचल ( अब उत्तराखंड)।
  31. भारत में कुल राज्यों और संघीय प्रदेशों की संख्या : 28 राज्य और 7 संघीय प्रदेश । तेलंगाना 29वाँ राज्य बना।

Leave a Comment

You cannot copy content of this page
Scroll to Top

Live Quiz : बंधुत्व जाति और वर्ग | 04:00 pm