Class 12 Political Science भाग-2 Chapter 5 कांग्रेस प्रणाली : चुनौतियाँ और पुनस्थापना-याद रखने योग्य बातें

याद रखने योग्य बातें

1.जवाहरलाल नेहरू का देहांत : 27 मई, 1964
2.खतरनाक दशक : 1960 का दशक कांग्रेस प्रणाली के लिए खतरनाक दशक कहा जाता है।
3.भारत के दूसरे प्रधानमंत्री एवं उनका जीवनकाल : लाल बहादुर शास्त्री, 1904-1966
4.लाल बहादुर शास्त्री का सर्वाधिक लोकप्रिय नारा : जय जवान, जय किसान।
5.शास्त्री का प्रधानमंत्री के रूप में कार्यकाल : 1964 से 1966 (लगभग 18 मास) ।
6. लाल बहादुर शास्त्री का देहांत : 10 जनवरी, 1966, तत्कालीन सोवियत संघ के ताशकंद (अब यह शहर उज्बेकिस्तान की राजधानी है) में हुआ।
7.भारत की तीसरी और प्रथम महिला प्रधानमंत्री : श्रीमती इंदिरा गाँधी (1917-1984 ) ।
8. श्रीमती इंदिरा गाँधी के प्रधानमंत्री के रूप में दो कालांश : (i) 1967 से 1977 तक, (ii) 1980 से 1984 तक।
9.इंदिरा गाँधी का सर्वाधिक मशहूर नारा : 1980 के आम चुनाव के दौरान ‘गरीबी हटाओ’।
10.’भारत में ढहता लोकतंत्र’ अथवा ‘इंडियाज डिस्इंटीग्रेटिग डेमोक्रेसी’ : यह प्रसिद्ध राजनैतिक लेख नेविए मेक्सवेल द्वारा ‘लंदन टाइम्स’ में 1967 में इंग्लैंड में प्रकाशित हुआ।
11. गैर-कांग्रेसवाद : वह राजनैतिक विचारधारा जो मुख्यतः कांग्रेस विरोधी और उसे सत्ता से अलग करने के लिए समाजवादी नेता राममनोहर लोहिया (1910-1967) के द्वारा प्रस्तुत की गई । 12. राममनोहर लोहिया के दो प्रसिद्ध समाचार पत्र : (i) मैनकाइंड, (ii) जन
13. सी. नटराजन अन्नादुरई : 1967 में मद्रास (तमिलनाडु) के मुख्यमंत्री पद पर आसीन हुए और जिन्होंने 1949 में द्रविड़ मुन्नेत्र कड़गम (DMK) पार्टी के रूप में गठित किया।
14.पापुलर यूनाइटेड फ्रंट की सरकार : 1967 के चुनावों के बाद पंजाब में बनी संयुक्त विधायक मोर्चे की सरकार जिसमें दोनों साम्यवादी दल (सी. पी. आई. और सी. पी. एम.), एस. एस. रिपब्लिकन पार्टी और भारतीय जनसंघ शामिल थे।
15.दल-बदल अथवा ‘आया राम गया राम’ : 1967 के आम चुनाव के बाद कांग्रेस के टिकटों पर विजयी जिन लोगों ने हरियाणा, मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश में और कालांतर में अन्य दलों के टिकट पर चुनाव जीतने वाले लोगों द्वारा अपने राजनैतिक दल को छोड़कर किसी अन्य राजनैतिक दल में शामिल होना या नया दल बना लेना, देश की राजनीति में दलबदल, ‘आया राम गया राम’ पद से लोकप्रिय हुआ।
16. के. कामराज (1903-1975) : कांग्रेस के दिग्गज नेता, मद्रास (तमिलनाडु) के मुख्यमंत्री और बाद में कांग्रेस के अध्यक्ष रहने वाले विख्यात नेता ।
17.कामराज योजना : के. कामराज द्वारा 1963 में कांग्रेस पार्टी के सामने वरिष्ठ नेताओं को अपने-अपने महत्त्वपूर्ण पदों से त्यागपत्र देने के लिए रखा गया प्रस्ताव ताकि अपेक्षाकृत युवा कार्यकर्ता पार्टी की कमान संभाल सकें, इस नाम से मशहूर हुई योजना।
18.कांग्रेस सिंडिकेट : एस. निजलिंगप्पा, मोरारजी देसाई और उनके समर्थक कुछ नेताओं को (इन्हें इंदिरा विरोधी भी कह सक हैं) कांग्रेस सिंडिकेट का नाम दिया गया।
19. किंग- मेकर: राजा / सम्राट या प्रधानमंत्री आदि नेताओं के पदों पर बिठाने वाले प्रभावशाली नेता गण।
20. कर्पूरी ठाकुर (1924-1988) : बिहार के मुख्यमंत्री, राममनोहर लोहिया के प्रबल समर्थक, निष्ठावान और अंग्रेजी भाषा के प्रयोग के प्रबल विरोधी नेता।
21. दस सूत्री कार्यक्रम : इंदिरा गाँधी द्वारा 1967 में कांग्रेस की लोकप्रियता की पुन:र्स्थापना के लिए घोषित और पार्टी द्वारा अपनाया गया आर्थिक सामाजिक कार्यक्रम |
22.वी. वी. गिरि का जीवन काल एवं राष्ट्रपति पद का कालांश : जीवन काल 1894-1980, भारत के राष्ट्रपति का कालांश 1969-1974
23. कांग्रेस द्वारा आधिकारिक अथवा घोषित ( नामांकित) राष्ट्रपति पद के लिए पराजित उम्मीदवार : वी. वी. गिरि मुकाबले एन. संजीव रेड्डी हारे थे।
24.कांग्रेस पार्टी से नवंबर, 1969 में निष्कासित प्रधानमंत्री: इंदिरा गाँधी।
25.प्रिवीपर्स : भूतपूर्व देशी राजाओं को दिए जाने वाले विशेष भत्ते आदि को प्रिवीपर्स कहा गया। इसे 1971 के संविधान संशोधन के बाद श्रीमती इंदिरा गाँधी की सरकार द्वारा (उच्चतम न्यायालय के निर्णय के बावजूद) समाप्त कर दिया गया।
26. कांग्रेस का रिक्विजिनिस्ट खेमा : इंदिरा गाँधी के नेतृत्व वाले गुट को कांग्रेस का रिक्विजिनिस्ट या कांग्रेस (आर.) कहा गया।
27.पुरानी कांग्रेस : मोरारजी देसाई के समर्थक कांग्रेस के समूह (ग्रुप) को पुरानी कांग्रेस या कांग्रेस (ओ.) की संज्ञा दी गई।
28.ग्रैंड अलायंस : कांग्रेस (ओ), सभी इंदिरा विरोधी विपक्षी पार्टियों और गैर-साम्यवादी दलों को ग्रैंड अलायंस की संज्ञा दी गई।

You cannot copy content of this page
Scroll to Top

Live Quiz : ईंट मनके और अस्थियाँ | 04:00 pm