During the Civil Disobedience Movement, why did not Muslims join in on the call for joint struggle? Explain सविनय अवज्ञा आंदोलन के दौरान मुसलमान संयुक्त संघर्ष के आह्वान पर शामिल क्यों नहीं हुए ? स्पष्ट कीजिए।

 सविनय अवज्ञा आंदोलन के दौरान मुसलमानों ने संयुक्त संघर्ष के आह्वान पर अपनी सहमति व्यक्त नहीं की। इसका कारण यह था कि सन् 1933 में ‘रहमत अली’ ने ‘पाकिस्तान’ शब्द की उत्पत्ति कर मुसलमानों के मन में अपनी क्षुद्र भावना उत्पन्न कर दी थी जिसको मुहम्मद अली जिन्ना ने स्वीकार कर द्विराष्ट्र सिद्धांत को भारत के मुसलमानों के बीच रखा। इस सिद्धांत के आधार पर अधिकांश मुसलमानों ने सविनय अवज्ञा आंदोलन में शामिल न होने का फैसला कर लिया।

Leave a Comment

You cannot copy content of this page
Scroll to Top