Notes Part 1 – राजा किसान और नगर – Class 12th History Chapter 1

Index

1. ईंट मनके और अस्थियाँ

1. आरंभ 2. निर्वाह के तरीके 3. मोहनजोदड़ो 4. सामाजिक विभिन्नताओं का अवलोकन 5. शिल्प उत्पादन के विषय में जानकारी 6. माल प्राप्त करने सम्बन्धी नीतियाँ 7. मुहरें लिपि तथा बाट 8. प्राचीन सभ्यता 9. सभ्यता का अंत 10. हड़प्पा सभ्यता की खोज 11. अतीत को जोड़कर पूरा करने की समस्याएं मानचित्र बहुविकल्पीय प्रश्न उत्तर 1 अंकीय प्रश्न उत्तर 2 अंकीय प्रश्न उत्तर

2. राजा किसान और नगर

बहुविकल्पीय प्रश्न उत्तर

3. बंधुत्व जाति और वर्ग

बहुविकल्पीय प्रश्न उत्तर

4. विचारक विश्वास और इमारतें

बहुविकल्पीय प्रश्न उत्तर 1 बहुविकल्पीय प्रश्न उत्तर 2

6. भक्ति सूफी और परम्पराएँ

बहुविकल्पीय प्रश्न उत्तर

7. एक साम्राज्य की राजधानी विजयनगर

बहुविकल्पीय प्रश्न उत्तर

8. उपनिवेशवाद और देहात

बहुविकल्पीय प्रश्न उत्तर

10. उपनिवेशवाद और देहात

बहुविकल्पीय प्रश्न उत्तर

11. विद्रोह और राज

बहुविकल्पीय प्रश्न उत्तर

13. महात्मा गाँधी और आन्दोलन

बहुविकल्पीय प्रश्न उत्तर

15. संविधान का निर्माण

बहुविकल्पीय प्रश्न उत्तर

जेम्स प्रिन्सेप और पियदस्सी

  • जेम्स प्रिन्सेप ईस्ट इंडिया कम्पनी के अधिकारी थे
  • 1830 के दशक मने उन्होंने ब्राह्मी और खरोष्ठी लिपि का अध्ययन किया
  • उन्हें ज्ञात हुआ कि ज्यादातर अभिलेखों पर पियदस्सी लिखा था
  • पियदस्सी का अर्थ होता है सुन्दर दिखने वाला
  • कुछ पर अशोक भी अंकित था
  • अशोक सबसे प्रसिद्ध और शक्तिशाली शासक थे
  • इससे इतिहासकारों को नयी दिशा मिली
  • भारतीय और यूरोपीय इतिहासकारों ने उपमहाद्वीप पर शासन करने वाले प्रमुख राजवंशों की वंशावलियों की पुनर्रचना अभिलेखों और ग्रंथों का गहन अध्ययन किया
  • इतिहासकारों ने राजनीतिक परिवर्तनों का आर्थिक और सामाजिक विकासों के मध्य संबंध के बारे में पता करने का प्रयास किया

सोलह महाजनपद

  • दार्शनिक विचारधाराओं में बौद्ध और जैन धर्मों में सोलह महाजनपदों का उल्लेख मिलता है
  • ये सोलह महाजनपद और उनकी राजधानियां निम्न हैं
महाजनपदराजधानी
काशी वाराणसी
अंग श्रावस्ती
चेदीचंपा
वत्स शक्तिमती
कुरु कोशाम्बी
पांचालइन्द्रप्रस्थ
मत्स्य विराटनगर
सुरसेनमथुरा
अश्मकपैठान/प्रतिष्ठान/पोतन/पोटिल
अवंति उज्जैन/महिष्मति
गांधारतक्षशिला
कम्बोजहाटक/राजपुर
वज्जिवैशाली
मल्लकुशीनगर,पावा
मगधगिरिव्रज – राजगृह
  • महाजनपदों में राजा शासक थे
  • गण या संघ में समूह शासन करता था. समूह का प्रत्येक व्यक्ति राजा था
  • भूमि सहित आर्थिक स्त्रोंतों पर राजाओं का नियंत्रण था
  • महाजनपद की राजधानी किलेबंद थी
  • प्रारंभी सेना का खर्च और राज्य के लिए भारी आर्थिक सहायता की जरूरत होती थी
  • ब्राह्मणों ने इसके लिए धर्मशास्त्र में तरीके बताये
    • क्षत्रिय ही राजा होगा या शासन करेगा
    • शासक कर वसूलेंगे और भेंट स्वीकार करेंगे
    • सम्पति जुटाने का सबसे अच्छा तरीका आक्रमण करना था
  • राज्य में अस्थायी या स्थायी सेना होती थी
  • अस्थायी सेना में राज्य के किसानो का समर्थन होता था
  • कुछ राज्यों के पास स्थायी सेना भी थी

सोलह जनपदों में प्रथम

मगध अधिक शक्तिशाली क्यों था?

  • आधुनिक इतिहासकारों के अनुसार
    • खेती की उपज अच्छी थी
    • लोहे की खदाने अच्छी थी
    • हाथी की उपलब्धता
    • गंगा नदी का उपलब्ध होना
  • उस समय के लेखकों के अनुसार ( बौद्ध और जैन धर्मों के लेखक )
    • शासकों की नीतियाँ उन्नत थी
    • बिम्बिसार, अजातशत्रु
    • शासकों की नीतियाँ उनके मंत्री तुरंत अपनाते थे
  • मगध की राजधानी पाटलिपुत्र (राजगाह) थी
  • चौथी शदाब्दी ई.पू. नाम बदल कर पटना रख दिया गया
  • मगध गंगा नदी के किनारे बसा था जिससे आवागमन बहुत आसान था.
You cannot copy content of this page
Scroll to Top

Live Quiz : बंधुत्व जाति और वर्ग | 04:00 pm