What is the modern form of currency? Why ‘Rupee’ is widely accepted as a medium of exchange? Explain two reasons. मुद्रा का आधुनिक रूप क्या है? ‘रुपये’ को व्यापक रूप में विनिमय का माध्यम क्यों स्वीकार किया गया है? दो कारण स्पष्ट कीजिए।

 उत्तर : करेंसी : कागज के नोट और सिक्के, आधुनिक रूप हैं। मुद्रा के रुपये’ को व्यापक रूप में विनिमय का माध्यम इसलिए स्वीकार किया गया है क्योंकि यह विनिमय प्रक्रिया में सरलता से प्रयोग किया जा सकता है। लोग रुपए (मुद्रा) के माध्यम से कुछ भी खरीद सकते हैं। अब विनिमय के लिए किसी वस्तु की आवश्यकता नहीं रह गई है।

उदाहरण के लिए : आज हम यह देखते हैं कि जूतों का एक विनिर्माता अपनी गेहूँ की जरूरत के लिए ऐसे किसान को ढूँढ़ने नहीं जाता है जिसको जूतों की जरूरत हो और इसके बदले में गेहूँ देने का इच्छुक हो।
इसके विपरीत वह एक दुकान खोल लेता है तथा मुद्रा या रुपए से जूतों की बिक्री करता है। इन रुपयों को लेकर वह किरयाने (खाद्यान्न भंडार) की दुकान में जाता है और रुपये देकर गेहूँ खरीद लेता है। संक्षेप में यह कहा जा सकता है कि मुद्रा के प्रचलन ने अब आवश्यकताओं के दोहरे संयोग की समस्या समाप्त कर दी है। मानव आवश्यकताओं की सभी चीजें बाज़ार में उपलब्ध हैं और प्रत्येक चीज को रुपयों से खरीदा जा सकता है।

Leave a Comment

You cannot copy content of this page
Scroll to Top

Live Quiz : बंधुत्व जाति और वर्ग | 04:00 pm